Monday , February 19 2018
Home / जबलपुर / शहर के बाहरी क्षेत्र की होटलो मे हो रहे अनैतिक काम

शहर के बाहरी क्षेत्र की होटलो मे हो रहे अनैतिक काम

बिना आईडी प्रूफ़ के दिये जा  रहे है रूम

यूवक यूवतियो का लगा रहता है आना जाना

नशे का भी चल रहा व्यापार

पुलिस की संदिग्ध खामोशी

जबलपुर/ होटल या रिसोर्ट मे ठहरने के लिये आने वाले यात्री को अपना आईडी प्रूफ़ होटल मे देना अनिवार्य है, शहर के अंदर संचालित होने वाली होटलो मे इस नियम का तो कडाई से पालन किया जा रहा है लेकिन बाहरी क्षेत्रो मे संचालित होने वाली होट्लो मे रूम बुक करने वालो से आईडी प्रूफ़ नही लिये जा रहे हैं। ज्यादातर होटल संचालक बिना किसी आईडी प्रूफ़ के ही कमरे उपलब्ध करा रहे है जिससे इन कमरो मे ठहरने वालो की पहचान संभव नही हो रही है।

यूवक यूवतियो की रहती है आमद

शहरी क्षेत्र से बाहर इन होटलो मे वैसे तो सभी तरह के यात्री आते है लेकिन सबसे ज्यादा संख्या यूवक और यूवतियो की है। मुंह मे कपडा बांध कर आने वाले जोडे होटल के काऊंटर पर भुगतान कर सीधे कमरे मे चले जाते हैं। ये जोडे दो से तीन घंटे तक ही रूम मे रुकते है इसके बाद रूम खाली कर देते हैं। जाहिर है ये जोडे अनैतिक कामो के लिये होटल के कमरो का उपयोग कर रहे हैं। होटल संचालक चंद घंटो के लिये इन कमरो के इस्तेमाल के लिये यूवक यूवतियो से मोटी रकम वसूल रहे है और जम कर कमाई कर रहे हैं।

इन क्षेत्रो की होटलो मे हो रही मनमानी

शहर के बिलहरी,गौर नदी के नजदीक,गोराबाजार और तिलवारा क्षेत्र की होटले ऐसे अवैध कारोबार के लिये अब कुख्यात हो गयी हैं। इन होटलो मे देह व्यापार, नशे के कारोबार को आसानी से संचालित किया जा रहा है। गोराबाजार की एक होटल मे ग्राहको को कमरे के साथ यूवतिया भी उपलब्ध करायी जा रही है इसके एवज मे ग्राहक से मोटी रकम वसूली जा रही है।

पुलिस की संदिग्ध खामोशी

ऐसा नही है कि इन क्षेत्रो के पुलिस थानो मे ऐसे कारोबार की जानकारी नही है लेकिन पुलिस होटल संचालको के खिलाफ़ कोई भी कार्यवाही नही कर रही है। ऐसे मे अवैध कारोबार करने वालो और पुलिस के बीच सांठ-गांठ की बात भी सामने आ रही है।

About Deepak Bhojak

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *